सरकार का दावा, 20 फीसदी तक सस्ते हुए खाध तेल (Edible Oil)

अर्थव्यवस्था कंपनी रिजल्ट्स खाना खज़ाना दुनिया देश

केंद्र सरकार के उपभोक्ता कार्य, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने खाद्य तेल की कीमतों में कमी आने का दावा किया है|उपभोक्ता कार्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, पिछले एक महीने से खाद्य तेलों की कीमतों में कमी आ रही है| कुछ मामलों में गिरावट लगभग 20 प्रतिशत तक है, जैसा कि मुंबई में कुछ खाद्य तेलों की कीमतों में दिख रहा है|

Read more: रायबरेली: विदेश में रह रहे डॉक्टर के घर में चल रहा था सेक्स रैकेट

पाम ऑयल की कीमत 7 मई 2021 को 142 रुपये प्रति किलोग्राम थी, जो अब 19 फीसदी घटने के साथ 115 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई है|सनफ्लावर ऑयल की कीमत 5 मई 2021 को 188 रुपये प्रति किलोग्राम थी, जो अब 16 प्रतिशत की गिरावट के साथ 157 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ चुकी है. सोया तेल की कीमत 20 मई 2021 को 162 रुपये प्रति किलोग्राम थी, जो अब मुंबई में 15 फीसदी की गिरावट के साथ 138 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई है|

Read more: चीन को देना चाहिए हर्जाना,कोरोना की वजह से भारत ने झेली तबाही

सरसों के तेल के मामले में, 16 मई 2021 को कीमत 180 रुपये प्रति किलोग्राम थी, अब यह  10 प्रतिशत की गिरावट के साथ 157 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई है, जबकि 14 मई 2021 को मूंगफली के तेल की कीमत 190 रुपये प्रति किलोग्राम थी, अब यह 8 प्रतिशत की गिरावट के साथ 174 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई है| 2 मई 2021 को वनस्पति की कीमत 154 रुपये प्रति किलोग्राम थी, जो अब 8 प्रतिशत की गिरावट के साथ 141 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गई है|

Read more: भारत सरकार से Twitter का टकराव, 25 फीसदी से ज्यादा टुटा शेयर

खाद्य तेल की कीमतें कई जटिल कारकों पर निर्भर करती हैं, जिसमें अंतरराष्ट्रीय कीमतें और घरेलू उत्पादन भी शामिल हैं. चूंकि घरेलू खपत तथा उत्पादन के बीच का अंतर अधिक है, इसलिए भारत को बड़ी मात्रा में खाद्य तेल का आयात करना पड़ता है|

Sharing

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *