महाराष्ट्र: विपक्षी नेताओं को उद्धव ठाकरे की नसीहत,सत्ता मिलने पर बिखर तो नहीं जाएगी एकता?

नेशनल महाराष्ट्र राजनीति

कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में शुक्रवार को 19 दलों ने एकजुट रहकर अगले लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का मुकाबला करने की बात कही। बैठक में शामिल शिवसेना प्रमुख और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने विपक्षी दलों को यह भी नसीहत दी कि सत्ता सामने दिखने पर एकजुटता बनी रहेगी, यह विश्वास जनता को दिलाना होगा। असल में उनका इशारा उन आशंकाओं को खारिज करने की जरूरत पर था, जिनमें बीजेपी की ओर से यह कहा जा रहा है कि नेतृत्व के सवाल पर यह एकता टूट जाएगी।

Read more..यूपी: योगी सरकार का अनुपूरक बजट दिल दुखाने वाला,बोलीं-मायावती,पेट्रोल की कीमत में कमी से मिलती राहत

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने विपक्षी दलों से अनुरोध किया कि वे जनता का भरोसा जीतें और एकजुट व मजबूत रहें। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा शुक्रवार को बुलाई गई विपक्षी दलों के नेताओं की ऑनलाइन बैठक के दौरान उन्होंने यह अपील की। शिवसेना नेता संजय राउत ने शनिवार को संवाददाताओं से कहा, ”बैठक के दौरान, ठाकरे ने इस बात पर जोर दिया कि दलों को जनता का विश्वास जीतना होगा।” राउत के मुताबिक ठाकरे ने कहा, ”अभी तो विपक्षी दलों में सत्ता को लेकर कोई भी लालसा नहीं है। लेकिन जब सत्ता सामने होगी तब भी विपक्षी दलों पर लोगों का यह भरोसा होना चाहिए कि वे मजबूत और एकजुट रहेंगे।”

Read more..UP- 190 योजनाओं का लोकार्पण किया डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने,136 का किया शिलान्यास

राउत ने कहा कि सोनिया गांधी ने सभी दलों के नेताओं से व्यक्तिगत रूप से बात की थी और उनसे बैठक में आने का अनुरोध भी किया था। उन्होंने कहा कि इस बात पर भी चर्चा हुई कि एकजुट रहकर आगामी आम चुनाव की किस तरह तैयारी की जा सकती है, इसके अलावा कथित पेगासस जासूसी मामला, किसानों से जुड़े मुद्दे, बढ़ती महंगाई और ‘लोकतंत्र पर हमला विषय पर भी ऑनलाइन बैठक में चर्चा हुई।

Sharing

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *