यूपी में चार महीने बाद खुले स्कूल, थर्मल स्क्रीनिंग के बाद मिला प्रवेश,लखनऊ में छात्रों का फूलों से स्वागत

उत्तर प्रदेश टॉप 2 मुख्य समाचार लखनऊ लाइव खबरें शिक्षा

यूपी-उत्तर प्रदेश में चार महीने बाद आज से छात्रों की 50 फीसदी उपस्थिति के साथ स्कूल खुल गए हैं। इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराया जा रहा है। थर्मल स्क्रीनिंग और सैनिटाइजेशन के बाद ही छात्रों को स्कूल में प्रवेश दिया जा रहा है। राजधानी लखनऊ में छात्रों का फूलों से स्वागत किया और फिर स्कूल में दाखिल कराया।
राजधानी लखनऊ में कानपुर रोड स्थित अवध कॉलेजिएट में छात्र पहुंचे तो उनका फूलों से स्वागत किया गया। शिक्षकों ने चॉकलेट देकर वेलकम किया। वहीं, सीतापुर रोड स्थित सेंट जोसेफ स्कूल में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए कक्षाएं प्रारंभ हुई।
आपको बता दें कि कक्षा 9 से 12 तक दो पारियों में कक्षाएं चलेंगी। लखनऊ के इंदिरा नगर के सी ब्लॉक स्थित आरएलबी स्कूल में भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए कक्षाएं शुरू की गई हैं।

Read more: 75वां स्वतंत्रता दिवस: मुख्यमंत्री योगी बोले- अपना कर्तव्य निभाना ही राष्ट्रधर्म है!

गोरखपुर में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन
उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में थर्मल स्क्रिनिंग के बाद छात्रों को स्कूल में प्रवेश दिया गया। स्कूल खुलने के दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है। सभी बच्चे और कर्मचारी मास्क लगाए हुए हैं।

बागपत में पहले दिन कम संख्या में स्कूल पहुंचे छात्र
बागपत के फ़तेहपुर पुट्ठी के स्कूल में पहुंचे विधार्थियो को सैनिटाइज के बाद प्रवेश दिया गया। क्लास में भी छात्रों को सोशल डिसटेंसिंग के साथ बैठाया गया। पहले दिन कम संख्या में छात्र स्कूल पहुंचे। वहीं, यह भी देखने में आ रहा कि कई जगह छात्रों ने मास्क नहीं लगाया हुआ था।
आगरा में सैनिटाइज के बाद प्रवेश दिया गया
आगरा में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बाद पहली बार कक्षा 9 से 11 तक के स्कूल खुल गए हैं। स्कूलों में बच्चों का ताली बजाकर स्वागत किया गया। अभी आधी क्षमता के साथ बच्चे स्कूल बुलाए  हैं। मास्क की अनिवार्यता की गई। हाथों को सैनिटाइज करके प्रवेश दिया गया।
शामली में विद्यालय खुले, पहले दिन छात्रों की संख्या रही कम 
शामली में सोमवार को माध्यमिक व सीबीएसई के कक्षा 9 से 12 तक के विद्यालय खुल गए हैं। छात्रों को थर्मल स्क्रीनिंग व सैनेटाइजेशन के बाद क्लास में बैठाया गया है। पहले दिन विद्यालयों में छात्रों की संख्या कम रही है। विद्यालयों में 20 से 30 प्रतिशत छात्र पहुंचे हैं।
रविवार को विद्यालय में कराया गया था सैनिटाइजेशन
सहारनपुर में चार महीने बाद विद्यालयों में आज से पढ़ाई शुरू हो गई। एक दिन पहले ही विद्यालय में सैनिटाइजेशन कराया गया था। आज जब छात्र छात्राएं विद्यालय पहुंचे तो थर्मल स्क्रीनिंग भी कराई गई। कक्षा 9 से 12वीं तक के लिए स्कूल खोले गए हैं।

Read more: कोरोना के मामले में आज भारी कमी, बीते 24 घंटे में 32937 नए मरीज, 417 लोगों की मौत

मुजफ्फरनगर: कक्षा 9 से 12 तक की कक्षाओं में पढ़ाई
मुजफ्फरनगर में शासन के निर्देश पर करीब छह माह बाद सोमवार को माध्यमिक और सीबीएसई बोर्ड के स्कूल खुल गए हैं। कक्षा 9 से 12 तक की कक्षाओं में पढ़ाई हो रही है। पहले दिन स्कूलों में पहुंचने वाले विद्यार्थी की संख्या काफी कम रही। कॉलेज में पहुंचे छात्र-छात्राओं की थर्मल स्कैनिंग कराई गई। उधर, माध्यमिक शिक्षक संघ ने दो पाली में कक्षाओं का संचालन किए जाने का विरोध किया है। जिसके विरोध में माध्यमिक शिक्षक संघ शिक्षक 25 अगस्त को प्रदेश भर में डीआईओएस कार्यालय पर धरना देंगे।
मेरठ में आज से स्कूल खुले
मेरठ में आज से स्कूल खुल गए हैं। कोविड-19 के खतरनाक संक्रमण को देखते हुए करीब चार महीने बाद स्कूलों को खोला गया है। शासन के निर्देश पर जिला अधिकारी के. बालाजी ने जिला विद्यालय निरीक्षक, सभी इंटर कॉलेजों के प्रधानाचार्य, राजकीय, अशासकीय, सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालय, सीबीएसई और आईसीएसई विद्यालयों के लिए निर्देश जारी किए थे। कक्षा 9 से कक्षा 12 तक कॉलेजों में दो पाली में पढ़ाई होगी। कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए आधी क्षमता के साथ विद्यार्थियों को बुलाया गया है।

Read more: यूपी चुनाव 2022: लडे़ंगे चुनाव मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी के खिलाफ रिटायर्ड आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर

बिजनौर में स्कूलों में लौट आई रौनक
बिजनौर में माध्यमिक विद्यालय कक्षा नौ से बारह तक पठन पाठन के लिए आज से खुल गए हैं। इसी के साथ ही स्कूलों में रौनक लौट आई है। स्कूलों में छात्रों की संख्या कहीं अधिक तो कहीं कुछ कम रही है। छात्र स्कूल आकर खुश दिखाई दिए। मानसी, अनुज, जयंत, मेघा आदि का कहना था कि स्कूल का माहौल अलग होता है। वे आज अपने दोस्तों से मिलकर खुश हैं। अपने शिक्षकों से समस्याएं हाथ के हाथ दूर करेंगे। शिक्षक भी प्रसन्न नजर आए हैं। कहा बच्चों के बिना स्कूल का कोई महत्व नहीं है। प्रधानाचार्या का कहना है कि एक दो दिन में छात्रों की उपस्थिति बढ़ जाएगी। स्कूल दो शिफ्ट में खुले हैं। हर कक्षा के आधे बच्चे बुलाए हैं।
वाराणसी: थर्मल स्क्रीनिंग और सैनिटाइजेशन के बाद मिला प्रवेश
वाराणसी में भी चार महीने बाद स्कूल खुल गए हैं। सोमवार को पांडेय हवेली स्थित बंगाली टोला इंटर कॉलेज में थर्मल स्क्रीनिंग और सैनिटाइजेशन के बाद छात्रों को प्रवेश दिया गया।
मुरादाबाद में 9वीं से 12वीं तक के स्कूल खुले
उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में 9वीं से 12वीं तक के स्कूल खुल गए हैं। सरकार ने प्रदेश में आज से 9वीं से 12वीं तक की कक्षाओं को खोलने का निर्णय लिया है। एक शिक्षिका ने कहा कि सुबह 8 से 12 बजे तक पहली शिफ्ट में आधे बच्चे आएंगे। दूसरी शिफ्ट में 12:30 से 4:30 बजे बाकी आधे बच्चे आएंगे।

Sharing

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *