केंद्र सरकार ने कोविशील्ड को लेकर सभी राज्यों को लिखी चिट्ठी, 4 से 8 हफ्ते के अंदर लगे वैक्सीन

दिल्ली देश स्वास्थ्य

नेशनल टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप और नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन के सुझाव के बाद राज्यों को लिखी चिट्ठी है। पुरे देश में एक बार फिर से कोरोनावायरस के मामले बढ़ने के बीच केंद्र सरकार ने कोविशील्ड (Covishield) को लेकर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को चिट्ठी लिखी है। केंद्र ने कहा कि कोविशील्ड वैक्सीन के पहली डोज के बाद दूसरी खुराक 4-8 हफ्ते के बीच दी जाए। पहले यह अंतराल 4-6 हफ्ते था। केंद्र का कहना है की राज्य अपने हिसाब से 4 से 8 हफ्ते के बीच कोविशील्ड वैक्सीन की दूसरी डोज दे सकते हैं। हालांकि, पत्र में यह कहा गया है कि सेकंड डोज 6 से 8 हफ्ते के बीच देना ज्यादा प्रभावी है।

ALSO READ- उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत हुए कोरोना संक्रमित

केंद्र सरकार का कहना है कि कोविशील्ड कोविड़-19 महामारी से लड़ने में ज्यादा असरदार है। देश में कोरोना वैक्सीनेशन अभियान (Corona Vaccination Drive) का दूसरा चरण चल रहा है। आपको बता दें की इस चरण में 60 साल से ऊपर और गंभीर बीमारी से ग्रसित 45 साल से अधिक उम्र वाले लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है।
नेशनल टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप और नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन के द्वारा लिखी गई चिट्ठी में बताया गया की 4-6 हफ्ते में कोविशील्ड की सेकंड डोज देने की बात कही गई थी। अब इसे 4-8 वीक के बीच कर दिया गया है। केंद्र सरकार ने साफ़-साफ़ बताया है कि दूसरी डोज हर हाल में 8वें हफ्ते तक दे देनी है और यह निर्देश सिर्फ कोविशील्ड वैक्सीन ही पर लागू होगा।

ALSO READ-अक्टूबर से सबसे खराब सप्ताह के बाद तेल के दाम स्थिर |

बता दें की देश में कोरोना महामारी के खिलाफ टीकाकरण अभियान तेज़ी से चल रहा है। सरकार की ओर से जारी किये गये ताजा आंकड़ों के मुताबिक अबतक कुल 4.36 करोड़ से अधिक लोगों को COVID-19 टीके की खुराक दी जा चुकी है। सरकार ने बताया कि अंतरिम आंकड़ों के मुताबिक शनिवार शाम यानी 20 मार्च 7 बजे तक कोविड-19 टीके की 4,36,75,564 खुराक दी गई है। आकंड़ों के मुताबिक, इनमें 77,63,276 स्वास्थ्य कर्मी शामिल हैं। वही अबतक कुल 48,51,260 स्वास्थ्य कर्मियों को दूसरी खुराक भी लग चुकी है।

Sharing

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *