पहली तिमाही में जियो का मुनाफा 45.60% बढ़ा

कंपनी रिजल्ट्स बिज़नेस

पहली तिमाही में जियो का मुनाफा 45.60% बढ़ा

नई दिल्ली। मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) का शुद्ध मुनाफा चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 6.80 फीसदी बढ़कर 10,104 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। कंपनी ने कहा कि उसके रिटेल ग्राहक और टेलीकॉम कारोबार में तेज बढ़त होने से उसका तिमाही मुनाफा बढ़ा है।कंपनी ने कहा कि इस दौरान उसका एकीकृत राजस्व बढ़कर रिकार्ड 1,72,956 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने कहा कि उसके उपभोक्ता कारोबार की टैक्स पूर्व मुनाफे में हिस्सेदारी 25 फीसदी से बढ़कर 32 फीसदी पर पहुंच गई है। खुदरा कारोबार ‘रिलायंस रिटेल’ की ‘ टैक्स पूर्व कमाई दो हजार करोड़ रुपये को पार कर गई जबकि दूरसंचार इकाई रिलायंस जियो का मुनाफा 45.60 फीसदी बढ़कर 891 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।

रिलायंस इंडस्ट्रीज समूह की दूरसंचार कंपनी रिलायंस जियो का शुद्ध मुनाफा चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 45.60 फीसदी बढ़कर 891 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। कंपनी ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी। कंपनी को पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 612 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ था। जबकि पिछले वित्त वर्ष की अंतिम तिमाही में शुद्ध मुनाफा 840 करोड़ रुपये रहा था। इस दौरान कंपनी का राजस्व 44 फीसदी बढ़कर 11,679 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। रिलायंस जियो के पास 30 जून तक कुल 33.13 करोड़ ग्राहक हो गये थे।

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने एक बयान में कहा, ‘जियो की मोबाइल सेवाओं में वृद्धि ने सभी अनुमानों को पीछे छोड़ना जारी रखा है। जियो का प्रबंधन सबसे किफायती दर पर देश के हर नागरिक को अनोखा डिजिटल अनुभव देने पर केंद्रित है और इसके लिये मांग को पूरा करने के लिये नेटवर्क क्षमता और कवरेज को बढ़ाया जा रहा है। जून तिमाही में कंपनी का प्रति उपभोक्ता औसत राजस्व 122 रुपये मासिक रहा। यह मार्च तिमाही में 126.20 रुपये था।

अंबानी ने कहा, ‘जियो ने देश भर के अपने सघन फाइबर नेटवर्क के बदौलत उपक्रमों को अपने अत्याधुनिक कनेक्टिविटी समाधानों से जोड़ना शुरू कर दिया है। जियो गीगाफाइबर सेवाओं का बीटा परीक्षण काफी सफल रहा है और इसे जल्दी ही लाक्षित पांच करोड़ घरों के लिये शुरू कर दिया जाएगा।’उन्होंने कहा कि जियो संचार, मनोरंजन, वाणिज्य, वित्तीय सेवाएं, शिक्षा, स्वास्थ्य और चिकित्सा और कृषि के तकनीकी मंचों के जरिये देश में डिजिटल क्रांति को सशक्त बनाने के लिये प्रतिबद्ध है।

Sharing

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *